:
दिल्ली हरियाणा पंजाब चंडीगढ़ हिमाचल प्रदेश राजस्थान उत्तराखण्ड महाराष्ट्र मध्य प्रदेश गुजरात नेशनल छत्तीसगढ उत्तर प्रदेश
ताज़ा खबर
स्कूली बच्चें बने सड़क सुरक्षा के प्रहरी - अमित गुलिया   |  रेलवे महिला कल्‍याण संगठन द्वारा स्कूलों में आयोजित किया गया वार्षिक समारोह   |  पूर्वी दिल्ली के प्रतिभा स्कूल को मिलेगी नयी सुविधाएं- महापौर   |  सनशाईन पब्लिक स्कूल का वर्ष 2014-15 का वार्षिक परीक्षा परिणाम घोषित    |  यूजीसी को भंग करने का कोई ऐसा निर्णय नहीं   |  सिरसा: स्कूल में दिलाई कन्या भ्रूण हत्या न करने की शपथ   |  सिरसा :जगन्नाथ जैन पब्लिक स्कूल में हुआ सेमिनार का आयोजन   |  अल्‍पसंख्‍यक शिक्षा योजना में अल्‍पसंख्‍यकों की शिक्षा का बढेता स्तर   |  राष्ट्रीय सिंधी भाषा संवर्धन परिषद (एनसीपीएसएल) की बैठक   |  ऑक्सफोर्ड सीनियर सैकेंडरी स्कूल में हुई फेयरवैल पार्टी    |  
19/12/2014  
भाजपा सत्ता में आते ही दिल्ली देहात में कालेज और सभी सरकारी कालेजों को दो पाली सिस्टम में लायेगी, डिजिटल लाइबे्ररी प्राथमिकता
 
 

नई दिल्ली, घोषणा पत्र 2015 के लिए जनसुझाव प्राप्त करने की श्रंख्ला के अंतर्गत दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री सतीश उपाध्याय ने दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर्स और कालेज प्रिंसिपल्स से चर्चा की। आज दिल्ली विश्वविद्यालय के लगभग 300 प्रोफेसर्स, लेक्चरार एवं कालेज प्रिंसिपल्स का एक प्रतिनिधिमंडल प्रदेश भाजपा कार्यालय में श्री उपाध्याय से मिला और अपने सुझाव दिये। प्रतिनिधिमंडल में प्रमुख थे डॉ. के पी चिन्दा, डॉ. सुमन शर्मा, प्रो. यामिनी गौतम एवं डॉ. आर बी सोलंकी।

लगभग दो घंटे तक चली इस परिचर्चा में विभिन्न कालेजों से आये शिक्षकों ने अपने सुझाव दिये जिनमें मुख्य बिन्दु उभरे -

दिल्ली में अनेक कालेज केवल प्रातःकालीन पाली में चलते हैं और वहीं दूसरी ओर कालेज इन्फ्रास्टेक्चर का अभाव है। ऐसे में शिक्षकों का सुझाव था कि सभी कालेजों को दो पाली में चलाया जाये।
पूर्वी एवं पश्चिमी दिल्ली में प्राथमिकता पर विश्वविद्यालय कैम्पस स्थापित किये जायें।
नैतिक शिक्षा, कैरियर काउंसलिंग, राष्ट्र निर्माण से जुड़ी शिक्षा स्नातक डिगरी कोर्सों में अनिवार्य की जाये।
दिल्ली के ग्रामीण इलाकों में सिर्फ एक कालेज है। प्राथमिकता पर नरेला, नजफगढ़ क्षेत्र में एक कालेज स्थापित किया जाये।
दिल्ली के बाहर से आने वाली छात्राओं और सिंगल टीचर्स के लिए डारमेट्री विद किचिन आधार पर होस्टल बनें।
दिल्ली विश्वविद्यालय के अंतर्गत दिल्ली के बीच में काई स्थान चिन्हित कर डिजीटल लाइब्रेरी विकसित की जाये ताकि अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सूचनायें उपलब्ध हो सके।
दिल्ली विश्वविद्याल से जुड़े कालेजों को विदेशी यूनिवर्सिटी से सम्बद्ध होने की छूट दी जाये।

शिक्षकों से परिचर्चा के बाद अपने धन्यवाद सम्बोधन में श्री सतीश उपाध्याय ने कहा कि भाजपा दिल्ली विश्वविद्यालय के शिक्षकों से आये इन सुझावों पर गंभीरता से विवेचन करेगी और इनमें से ज्यादातर को हम अपने घोषणा पत्र में स्थान देंगे। श्री उपाध्याय ने कहा कि शिक्षकों के सभी सुझाव तर्कसंगत हैं पर व्यक्तिगत तौर पर मैं तीन सुझावों को तत्काल अपना नैतिक समर्थन आज के मंच के माध्यम से देता हूँ। मेरा भी मानना है कि सभी कालेजों में दो पाली स्सिटम हों जिससे सभी पात्र छात्र/छात्राओं को प्रवेश मिल सके।  भाजपा सत्ता में आई तो हम 6 महीने के अंदर दिल्ली देहात में कालेज का कार्य प्रारम्भ करेंगे और अगले दो वर्ष में कालेज प्रारम्भ हो जायेगा। साथ ही हम डारमेट्री होस्टल के सुझाव को अपने चुनाव घोषणा पत्र में प्राथमिकता देंगे।  

जहां तक नैतिक शिक्षा आदि को पाठ्यक्रम को भाग बनाने की बात है भाजपा और एबीवीपी सदा इसका समर्थन करते रहे हैं। डिजिटल लाइबेरी और विदेशी विश्वविद्यालयों से जुड़ाव नये शिक्षा विषयों से दिल्ली के छात्रों को जोड़ने में उपयोगी होंगे। पूर्वी एवं पश्चिमी दिल्ली में विश्वविद्यालय कैम्पस बनाना भी तार्किक प्रस्ताव हैं पर इनके लिए समय चाहिए।

Back